केमिकल इंजिनियर कृष्ण कुमार से साक्षात्कार

1:-नाम:- कृष्ण कुमार
2:-पिता का नाम:- लाल बाबू साहू
3:-माता का नाम:-राम कुमारी देवी
4:-जन्मतिथि:-01-01-1987
5:-निवास:-जरही, सूरजपुर, छ.ग.
6:-शैक्षिक योग्यता:- बी टेक, आई आई टी गौहाटी [आई आई टी रैंक 2736]
7:-वर्तमान कार्यरत पद:- सीनियर इंजिनियर
8:-मोबाइल न. :- 9407635230
9:-ई-मेल:-krish2736@gmail.com

प्रश्न1:- सर्वप्रथम आपकी सफलता पर वेब पत्रिका 'ज्ञान मंजरी' की ओर से आप को बधाई-
उत्तर:-जी धन्यवाद!

प्रश्न2:-आप अपने बारे में हमें कुछ बताना चाहेंगे?
उत्तर:-IIT-G से पास होने के बाद campus selection से गेल इंडिया लिमिटेड में चयन हुआ और आज मैं इसी कंपनी में सीनियर इंजिनियर के पद पर पदस्थ हूँ।मेरी हाईस्कूल की पढ़ाई भटगांव, सूरजपुर,छ.ग. में हुई।12वीं की पढ़ाई भिलाई, छ.ग. से हुई।2006 की IIT प्रवेश परीक्षा  में चयनित होने के बाद I.I.T.गुवाहाटी  से 2010 में केमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई  पूर्ण की।

3:-आप अपनी सफलता का श्रेय किसे देना चाहेंगे?
उत्तर:-अपनी सफलता का श्रेय भगवान, अपने माता-पिता व अपने मित्रों को देना चाहूँगा।

4:-आपको इसकी प्रेरणा किससे मिली?
उत्तर:-शिक्षकों व स्वयं की इच्छा शक्ति से प्रेरित होकर।

5:-क्या IIT करना ही एक मात्र लक्ष्य था अथवा अन्य करियर विकल्पों के बारे में भी कभी आपने सोचा था?
उत्तर:-एक मात्र लक्ष्य IIT ही रहा।

प्रश्न6:-IIT परीक्षा की तैयारी आपने कैसे की?
उत्तर:-IIT परीक्षा की तैयारी मैंने हिन्दी माध्यम का अभ्यर्थी होने के बावजूद भी अंग्रेजी माध्यम को लेकर कड़ी मेहनत, लगन व सकारात्मक सोच के साथ की।साथ ही मैंने इसके लिए कोचिंग क्लास भी लिये।

प्रश्न7:-इस परीक्षा को हम कब दे सकते हैं और इस के अनिवार्य विषय क्या- क्या हैं?
उत्तर:-इस परीक्षा को देना का मौका हमें दो बार ही मिलता है।12 वीं क्लास के साथ या उसके एक साल बाद। इसके अनिवार्य विषय गणित, भौतिकी, रसायन आदि हैं।

प्रश्न8:-IIT परीक्षा की चयन प्रक्रिया क्या है?
उत्तर:- IIT परीक्षा दो चरणों में होती है जिसमें पहली परीक्षा IIT मेन्स तथा दूसरी परीक्षा IIT एडवांस के नाम से जाना जाता है। अब हमें 12वीं में भी 80% अंक लाने अनिवार्य हैं। 

प्रश्न9:-प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में आप इन्टरनेट को कहाँ देखते हैं?
उत्तर:- IIT परीक्षा के अलावा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में इन्टरनेट बहुत उपयोगी है। ये आप पर निर्भर करता है कि है आप इसका प्रयोग कैसे करते हैं। आपको इन्टरनेट से पढ़ायी में मदद तो मिलती ही है, किन्तु IIT परीक्षाओं की तैयारी के लिए नेट अभी भी अधिक सक्षम नहीं है क्योंकि numericals व maths की समस्याओं को नेट पर सुलझाना आसान नहीं होता। इसके लिए आपका स्वाध्याय ही काम आता है।

प्रश्न10:-'ज्ञान मंजरी' के माध्यम आगामी अभ्यर्थियों  को आप कोई सुझाव या सन्देश देना चाहेंगे?
उत्तर:- सर्वप्रथम मैं 'ज्ञान मंजरी' के माध्यम से आगामी अभ्यर्थियों  को उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामना देता हूँ।असफलता से घबड़ायें नहीं, धैर्य बनाये रखें। अपनी असफलता के कारणों को ढूंढे तथा पुनः पुरे जोश से तैयारी करें। समर्पण, कड़ी मेहनत और लगन ही हमें सफल बना सकती है। इसका कोई शॉर्टकट नहीं होता, यह ईमानदारी, समर्पण और धैर्य माँगती है। 


लेखक परिचय :
संपादक
फो.नं. --
ई-मेल - idea.nasreen06@gmail.com
इस अंक में ...