सामान्य ज्ञान सितम्बर 2014 : विज्ञान
  1.  तारों के बीच बादल, धूल, हाइड्रोजन गैस, हीलियम गैस और अन्य आयनित गैसों को मूल रूप से निहारिका (Nebulae) कहा जाता है।
  2.  अमरीकी वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन ने 1879 ई. में इलेक्ट्रिक बल्ब की खोज जी थी। 
  3.  थर्मोस्कोप, प्रारम्भिक थर्मामीटर का आविष्कार 1617 ई. में इटली के वैज्ञानिक गैलिलियो ने किया  था।
  4.  रमन प्रभाव ―जब प्रकाश किसी ठोस, द्रव, गैस के पारदर्शी माध्यम से पार होता है, तो इसका भाग प्रकीर्णित हो जाता  है। इस प्रकीर्णित प्रकाश को किसी शक्तिशाली स्पेक्ट्रोस्कोप के द्वारा परीक्षण करने पर कई लाइनें प्राप्त होती हैं। कुछ लाइनों की तरंगदैर्ध्य प्रारंभिक प्रकाश की तरंगदैर्ध्य के बराबर कुछ लाइनों की उससे कम व कुछ की उससे अधिक होती है। ये लाइनें सबसे पहले 1928 में भारतीय वैज्ञानिक रमन द्वारा प्राप्त की गई थीं। सर्वप्रथम ये लाइनें धूप के चश्मे पर प्रयोग की गई थीं।
  5.  समताप मण्डल के सबसे निचले भाग में प्रायः 15 से 35 किमी की ऊँचाई पर ओजोन मण्डल की उपस्थिति पायी जाती है। यह पृथ्वी के रक्षा आवरण का काम करती है, क्योंकि इसके द्वारा सूर्य से आने वाली तीव्र पराबैंगनी किरणों का अल्ट्रावायलेट रेज का अवशोषण कर लिया जाता है एवं पृथ्वी इसके हानिकारक प्रभाव से बच जाती है।

रसायन विज्ञान

  1.  चाँदी व ताँबा विद्युतधारा के सर्वोत्तम चालक हैं। ताँबा धातु से किसी प्रकार का प्रदूषण नहीं फैलता है।
  2.  विद्युत् बल्ब का तन्तु टंगस्टन का बना होता है। इसका गलनांक 3500°C होता है।
  3.  जिंक फास्फाइड का उपयोग चूहा विष के रूप में होता है।
  4.  साइट्रिक अम्ल एक आर्गेनिक अम्ल है। यह खट्टे फलों में पाया जाता है।

लेखक परिचय :
संपादक
फो.नं. --
ई-मेल - idea.nasreen06@gmail.com
इस अंक में ...