आर्थिक शब्दावली

आर्थिक शब्दावली

कराघात:- सरकार द्वारा लगाए गए कर को मौद्रिक भार जिस व्यक्ति पर सबसे पहले पड़ता है अर्थात जिससे कर की वसूली की जाती है उस पर कराघात होता है ।

करापात(incidence of tax):- जिस व्यक्ति पर कराघात होता है । यदि वह व्यक्ति कर के मौद्रिक भार को किसी अन्य व्यक्ति पर टालने में सफल हो जाता है, तो उसे करापात कहते हैं । करापात उस व्यक्ति पर होता है जो अंतिम रूप से उसे चुकाता है, जैसे सरकार यदि उत्पादन शुल्क बढ़ा दे , तो उत्पादक इस कर को मूल्य में शामिल कर उपभोक्ता से वसूलता है, इसे ही करापात कहते हैं ।

एमोटाईजेशन(amortization):- ऋण को किस्तों में चुकाने की प्रक्रिया को एमोटाईजेशन कहते हैं ।

एम्बार्गो(embargo):- किसी सरकार द्वारा अपने देश के बन्दरगाहों पर कुछ समय के लिए विदेशी जहाजों के आने पर प्रतिबंध लगाने को एम्बर्गों कहते हैं ।

फ्रीपोर्ट(free port):- ऐसे बन्दरगाह, जिन पर पुनर्निर्यात होने वाली वस्तुओं पर कोई कर नही लगाया जाता है उसे फ्रीपोर्ट कहते हैं ।

शून्य बजट(zero budget):­- इस अवधारणा का विकास 1985 के भारतीय बजट के दौरान हुआ । इसके अंतर्गत और योजना बजट के कोष को पूर्व योजनाओं के प्रावधान से अलग करके देखा जाता है और उस मद का पुनर्मूल्यांकन करके नए सिरे से उसके लिए धन की व्यवस्था करने का प्रावधान किया जाता है । इस व्यवस्था का उदेश्य उन योजनाओं को अतरिक्त वित्त जारी करने के बजाय समाप्त कर देना है जिनका महत्व समाप्त हो चुका है या वर्तमान में जो अप्रासंगिक हो चुकी हों । इस प्रकार के बजट को शून्य बजट कहते हैं ।

एंजेल का नियम(angel’s law):- इस सिद्धांत के अनुसार कम आय वाले उपभोक्ता अपनी आय का अधिकांश भाग भोजन आदि पर व्यय करते हैं, लेकिन आय में जैसे-जैसे वृद्धि होती जाती है वैसे-वैसे कुल आय का कम भाग भोजन पर व्यय होता है ।

ग्रेशम का नियम(greasham’s law):- यदि किसी अर्थव्यवस्था में अच्छी और बुरी मुद्राए एक साथ प्रचलन में हैं, तो बुरी मुद्रा अच्छी मुद्रा को प्रचलन से बाहर कर देती है । यही ग्रेशम का नियम है ।

(यह नियम आम लोगों की प्रकृति पर आधारित है जिसमें हर आदमी नए नोटों को अपने पास रखकर पुराने नोटों को चलाने का प्रयास करता है ।)

 


लेखक परिचय :
विशाल वर्मा लखनवी
फो.नं. -7836898542
ई-मेल - ccivishdem@gmail.com
इस अंक में ...