नागरिकता की समाप्ति
  • नागरिकता की समाप्ति:
  • भारतीय नागरिकता का स्वैच्छिक त्याग किया जा सकता है तथा विदेश की नागरिकता प्राप्त की जा सकती है बशर्ते ऐसा करने का कारण अपराध आदि नही होना चाहिए ।
  • यदि कोई व्यक्ति अन्य देश की नागरिकता ग्रहण करता है, तो उसकी भारत की नागरिकता समाप्त हो जाती है ।
  • यदि कोई व्यक्ति अन्य देश की नागरिकता धोखे से लेले तो यह अवैध है ।
  • जब कोई स्त्री या पुरुष किसी विदेशी स्त्री या पुरुष से विवाह करता है , तो उसे विदेशी नागरिकता मिलने पर भारतीय नागरिकता स्वतः ही समाप्त हो जाती है ।
  • जब कोई व्यक्ति विदेश में जाकर वहाँ की सरकारी नौकरी करता है, तो भी उसकी नागरिकता स्वतः ही समाप्त हो जाती है ।
  • कुछ अन्य कारणो से भी नागरिकता की समाप्ति हो जाती है, जैसे- पागलपन, साधु, सन्यासी, इत्यादि बनने पर नागरिकता स्वतः समाप्त हो जाती है ।
  • देशद्रोह के आधार पर भी किसी भी व्यक्ति की नागरिकता संविधान के प्रावधान के अनुसार समाप्त कर दी जाती है ।

 


लेखक परिचय :
विशाल वर्मा लखनवी
फो.नं. -7836898542
ई-मेल - ccivishdem@gmail.com
इस अंक में ...