ज्ञान मंजरी रचना
गिलास में धुआँ

शीशे का एक गिलास लेकर उसमें नमक का तेजाब की कुछ बूंदे और दूसरे गिलास में द्रव्य अमोनिया की कुछ बूंदे डाल दें। पहले अपने मित्रों को दिखा दें कि दोनों गिलास खाली हैं और कहें कि आप जादू से उनमें धुआँ भर देंगे। अब एक गिलास को उलट कर दूसरे गिलास पर रख दें और दोनों गिलासों को एक गिलास से ढक दें।

इसके बाद झूठ के मंत्र पढ़ना आरम्भ कर दें। थोड़ी देर के बाद रुमाल को ऊपर वाले गिलास सहित उठा लें। आपके मित्र यह देखकर दंग रह जायेंगे कि दूसरे गिलास से धुआँ उठ रहा है।

असल में यह धुआँ नमक का तेजाब और द्रव्य अमोनिया के मिलने से उत्पन्न होगा।

जरुरी सामान:- नमक का तेजाब, द्रव्य अमोनिया, शीशे के दो गिलास, और एक रुमाल

साभार :- "ज्ञान विज्ञान की बातें"


लेखक परिचय :
संपादक
फो.नं. --
ई-मेल - idea.nasreen06@gmail.com
इस अंक में ...