ड्रोन : एक मानव रहित विमान

UAV (Unmanned Arial Vehicles) जिन्हें ड्रोन कहा जाता है इस प्रकार के विमान होते है जिन्हें दूर से कोई पायलट नियंत्रित करते है या फिर किसी पूर्व निर्धारित मिशन के आधार पर उड़ान भरते  है | यूं तो कई प्रकार के ड्रोन उपलब्ध है परन्तु इन्हें दो श्रेणियों में विभाजित किया जाता है -
1. बचाव या निगरानी वाले ड्रोन
2.लड़ाकू ड्रोन जो कि मिसाइल व बम से लैस होते है 
पिछले कुछ वर्षों से ड्रोन का प्रयोग तेजी से बढ़ा है क्योंकि पायलट युक्त विमान की अपेक्षा इस प्रकार के विमान कई घंटों तक उडान भर सकते है हाल ही में ब्रिटेन के Zephyr नामक ड्रोन ने लगातार 82 घंटे उड़ कर विश्व रिकॉर्ड बनाया  है | ड्रोन लड़ाकू विमान की अपेक्षा काफी सस्ते होते है और किसी हादसे की स्थिति में क्रू के सदस्यों के प्राण जाने का खतरा भी नहीं रहता है |
अमेरिका व ब्रिटेन रीपर व प्रिडेटर नामक ड्रोन का प्रयोग अफगानिस्तान व इराक में कर रहे है जिनका नियंत्रण उपग्रह के माध्यम से लॉस वेगास, नेवाडा से किया जाता है | 
ड्रोन की लॉन्चिंग उस क्षेत्र में स्थित क्रू द्वारा की जाती है तत्पश्चात ड्रोन का नियंत्रण नेवाडा रेगिस्तान में स्थित नियंत्रण इकाई को दे दिया जाता है जो विडियो स्क्रीन का प्रयोग कर ड्रोन की उड़ान को नियंत्रित करते है | एक पायलट ड्रोन को उडाता है दूसरा कैमरा व अन्य संवेदी उपकरणों का सञ्चालन करता है जबकि तीसरा युद्ध क्षेत्र में ड्रोन का प्रयोग कर रही सैन्य टुकड़ी व कमांडर्स  के साथ संवाद बनाये रखता है | अमेरिकी सेनाओं द्वारा इन ड्रोन का प्रयोग इराक, अफगानिस्तान व पाकिस्तान में बखूबी किया जा रहा है | खाश तौर  पर आतंकवादी नेताओं को ठिकाने लगाने में ड्रोन का प्रयोग किया गया है | यद्यपि ड्रोन का युद्ध में प्रयोग बुश शासन के दौरान प्रारंभ किया गया था परन्तु ओबामा ने इसे बढाया व उनके कार्यकाल 41 से अधिक ड्रोन हमले किये गये है | ड्रोन का प्रयोग किया जाना विवाद का विषय रहा है और इस प्रकार के हमलों में निर्दोष लोगो को भी जाने गवानी पड़ी है एक अमेरिकी संस्था ब्रूकिंग्स इंस्टिट्यूट के अनुसार 1 आतंकवादी को ड्रोन द्वारा मारने में 10 आम नागरिकों की जाने गयी हैं |
आजकल ड्रोन का प्रयोग सामान्य कार्यों में भी किया जाने लगा है | शोकिया फोटोग्राफर ड्रोन का प्रयोग फोटोग्राफी में कर रहे है जबकि पुलिस द्वारा निगरानी में किया जा रहा है | अमेज़न ने हाल ही में अपने ऑनलाइन स्टोर से सामग्री की सप्लाई उपभोक्ता तक करने में  ड्रोन का प्रयोग करने की घोषणा की है | कृषि क्षेत्र में भी ड्रोन के प्रयोग की कई संभानाएं हैं | शायद भविष्य में आप अपने आस पास ड्रोन को उड़ान भरते व बहुत से जरूरी कार्यों में सहयोग करते हुए देख पायें |

 


लेखक परिचय :
मोहम्मद इमरान खान
फो.नं. -+91 9785984283
ई-मेल - imrankhanonnet@gmail.com
इस अंक में ...