सामान्य ज्ञान मई 2014 : भौतिक विज्ञान
  1. उत्तल दर्पण ( convex mirror ) में प्रत्येक दशा में प्रतिबिम्ब दर्पण के पीछे, उसके ध्रुव और फोकस के बीच वस्तु से छोटा, सीधा एवं आभासी बनता है। इसका उपयोग गाड़ी में चालाक सीट के पास पीछे के दृश्य को देखने के लिए किया जाता है।
  2. ' ब्लैक होल ' सिद्धांत का प्रतिपादन एस. चन्द्रशेखर ने किया था। ब्लैक होल ऐसी खगोलीय वस्तु होती है, जिसका गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र इतना शक्तिशाली होता है कि प्रकाश सहित कुछ भी इसके खिंचाव से बच नहीं सकता है। इसे ' ब्लैक होल ' इसलिए कहा जाता है, क्योंकि यह अपने ऊपर पड़ने वाले सारे प्रकाश को अवशोषित कर लेता है और कुछ भी रिफ्लेक्ट नहीं करता।
  3. पृथ्वी के चारों ओर परिक्रमा कर रहा कृत्रिम उपग्रह इसलिए पृथ्वी पर नीचे नहीं गिरता, क्योंकि पृथ्वी का आकर्षण उसकी गति के लिए आवश्यक त्वरण प्रदान करता है।

लेखक परिचय :
किरणदीप सिंह
फो.नं. -8146392222
ई-मेल - [email protected]
इस अंक में ...